spot_img

Reg No - DMPNPGCI071

spot_img
Homelatestएकनाथ शिंदे की 'मूल पार्टी' का दर्जा हासिल करने की कोशिश

एकनाथ शिंदे की ‘मूल पार्टी’ का दर्जा हासिल करने की कोशिश

Published on

खबरे व विज्ञापन के लिए संपर्क करे. भीमराव लोणारे मो. 8999320901
spot_img

 

एकनाथ शिंदे की ‘मूल पार्टी’ का दर्जा हासिल करने की कोशिश

‘धनुष’ पाने के लिए कानूनी लड़ाई?

मुंबई:  पता चला है कि एकनाथ शिंदे ने भी मुंबई की पार्टी का दर्जा पाने की कोशिश शुरू कर दी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि शिंदे शिवसेना का ‘धनुष और बाण’ पाने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ेंगे. पता चला है कि शिवसेना के दो तिहाई विधायक शिंदे के गुट में हैं। पता चला है कि एकनाथ शिंदे भी ‘मूल पार्टी’ का दर्जा हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं। मालूम हो कि इसमें भाजप की टीम भी मदद कर रही है

सूत्रों ने जानकारी दी है कि एकनाथ शिंदे विधानसभा के उपाध्यक्ष को पत्र भेजकर दावा करेंगे कि उनका दल ही असली शिवसेना है. पता चला है कि पत्र सौंपने के बाद शिंदे सत्ता का दावा करेंगे।

राजनीतिक विश्लेषक अभय देशपांडे ने कहा कि विधायिका में पार्टी को विभाजित करने के लिए पार्टी को दो-तिहाई विधायकों की आवश्यकता होती है। मूल पार्टी का दावा करने के लिए, उनके माता-पिता को पार्टी में तोड़ना पड़ता है। यदि पदाधिकारी, पार्टी प्रतिनिधि, जन प्रतिनिधि के बीच कोई अंतर है, तो आप उस पार्टी का नाम, पार्टी का चिन्ह प्राप्त कर सकते हैं। रवि नायक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने मुद्दों पर सफाई दी है. पार्टी के आधिकारिक नाम और चुनाव चिन्ह का दावा तभी किया जा सकता है जब विधायिका को पार्टी को विभाजित करना हो, न कि पार्टी को।

इस बंटवारे के बाद हमें यह सुनिश्चित करने के लिए चुनाव आयोग के पास जाना होगा कि असली पार्टी हमारी है। आयोग जो देता है उसे अदालत में लड़ा जा सकता है। यह एक लंबी प्रक्रिया है। अगर पार्टी का आधिकारिक चुनाव चिन्ह और नाम चाहिए तो पदाधिकारी, पार्टी प्रतिनिधि, जनप्रतिनिधि के लिए दो तिहाई कोटा पूरा करना होता है. यदि ऐसा नहीं होता है, तो पार्टी का नाम और चिन्ह मूल समूह के पास रहेगा, चाहे मूल समूह कितना ही छोटा क्यों न हो और निवर्तमान समूह कितना भी बड़ा क्यों न हो।

एकनाथ शिंदे के समूह का कोई कानूनी आधार नहीं है। उन्हें पहले यहां आना होगा और साबित करना होगा कि उनके पास 37 सदस्य हैं। अब शिवसेना पार्टी शिवसेना है। ये सारी बातें सुप्रीम कोर्ट जा सकती हैं। विधायकों को अयोग्य घोषित करने का निर्णय विधानसभा अध्यक्ष द्वारा लिया जाता है। विधान सभा के अध्यक्ष ने दलबदल पर प्रतिबंध के तहत उन्हें अयोग्य घोषित करने का फैसला किया। यदि वह वहां अपात्र हो जाता है तो विषय समाप्त हो जाता है। अगर 37 लोग आते हैं, तो उन्हें निशान लगाना होगा। फिर शुरू होगी असली लड़ाई।

advertisment

Subscribe To Ibmtv9

advertisment

Latest articles

नागपूर महानगरपालिका आम आदमी पार्टी जिंकणार – विदर्भ अध्यक्ष डॉ देवेंद्र वानखडे

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली महानगरपालिका केली काबीज  नागपूर युनिटने वाटली मिठाई नागपूर महानगरपालिका आम आदमी...

‘पुण्‍यश्‍लोक अहिल्‍या’ महानाट्याचे दमदार सादरीकरण

‘पुण्‍यश्‍लोक अहिल्‍या’ महानाट्याचे दमदार सादरीकरण स्‍थानिक गायकांचा सांगीतिक ‘आविष्‍कार नागपूर : ‘इतिहासाने पानोपानी, जिची गाथा!,...

‘अग्नीचे सौजन्य शीतनिवारण । पालवी बांधोन नेतां नये ‘  संतांची शिकवण कायम प्रासंगिक

‘अग्नीचे सौजन्य शीतनिवारण । पालवी बांधोन नेतां नये ‘  संतांची शिकवण कायम प्रासंगिक परमपूज्य सद्गुरूदास...

ध्वजदिन निधी संकलनात नागपूर अव्वलस्थानी येण्यासाठी प्रयत्न करा – जिल्हाधिकारी डॅा. विपीन इटनकर

ध्वजदिन निधी संकलनाचा शुभारंभ नागपूर : माजी सैनिकांच्या कल्याणकारी कार्यक्रमासाठी प्रत्येक वर्षी 7 डिसेंबर रोजी...
advertisment

नागपूर महानगरपालिका आम आदमी पार्टी जिंकणार – विदर्भ अध्यक्ष डॉ देवेंद्र वानखडे

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली महानगरपालिका केली काबीज  नागपूर युनिटने वाटली मिठाई नागपूर महानगरपालिका आम आदमी...

‘पुण्‍यश्‍लोक अहिल्‍या’ महानाट्याचे दमदार सादरीकरण

‘पुण्‍यश्‍लोक अहिल्‍या’ महानाट्याचे दमदार सादरीकरण स्‍थानिक गायकांचा सांगीतिक ‘आविष्‍कार नागपूर : ‘इतिहासाने पानोपानी, जिची गाथा!,...

‘अग्नीचे सौजन्य शीतनिवारण । पालवी बांधोन नेतां नये ‘  संतांची शिकवण कायम प्रासंगिक

‘अग्नीचे सौजन्य शीतनिवारण । पालवी बांधोन नेतां नये ‘  संतांची शिकवण कायम प्रासंगिक परमपूज्य सद्गुरूदास...

ध्वजदिन निधी संकलनात नागपूर अव्वलस्थानी येण्यासाठी प्रयत्न करा – जिल्हाधिकारी डॅा. विपीन इटनकर

ध्वजदिन निधी संकलनाचा शुभारंभ नागपूर : माजी सैनिकांच्या कल्याणकारी कार्यक्रमासाठी प्रत्येक वर्षी 7 डिसेंबर रोजी...

नाग व आम नदीच्या जलसंचयन क्षेत्रातील गावांमध्ये शनिवारी आमसभा घ्या : जिल्हाधिकारी

'चला जाणूया नदीला' अभियान नागपूर : स्वातंत्र्याच्या अमृत महोत्सव अंतर्गत चला जाणूया नदीला या उपक्रमांतर्गत...

डॉ. बाबासाहेब आंबेडकरांना ‘तथागत’ महानाट्याद्वारे अभिवादन

डॉ. बाबासाहेब आंबेडकरांना ‘तथागत’ महानाट्याद्वारे अभिवादन पं. प्रभाकर धाकडे यांच्‍या वादनाने नागपूरकर मंत्रमुग्‍ध खासदार सांस्कृतिक...
advertisment